13.8 C
New York
Thursday, April 15, 2021

Buy now

spot_img

ISRO Scientist Nambi Narayanan Illegal Arrest Case: Supreme Court To Hear Matter Next Week Ann


नई दिल्ली: भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (ISRO) के पूर्व वैज्ञानिक नंबी नारायणन को फंसाने वाले पुलिस अधिकारियों पर कार्रवाई पर सुप्रीम कोर्ट अगले हफ्ते विचार करेगा. इस मसले पर कोर्ट ने अपने पूर्व जज जस्टिस डी के जैन की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन किया था. कमेटी ने पिछले हफ्ते अपनी रिपोर्ट जमा करवा दी थी. आज केंद्र सरकार ने कोर्ट से रिपोर्ट के आधार पर केरल पुलिस के अधिकारियों पर जल्द कार्रवाई की मांग की.

क्या है मामला?

स्वदेशी क्रायोजेनिक इंजन बनाने में लगे नंबी नारायणन को 1994 में केरल पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था. उन पर तकनीक विदेशियों को बेचने का आरोप लगाया गया. बाद में CBI जांच में पूरा मामला झूठा निकला. 1998 में खुद के बेदाग साबित होने के बाद नारायणन ने उन्हें फंसाने वाले पुलिस अधिकारियों पर कार्रवाई के लिए लंबी लड़ाई लड़ी. इस मामले को सुनते हुए सुप्रीम कोर्ट ने 2018 में उन्हें 50 लाख रुपए का मुआवजा देने का आदेश दिया. साथ ही, उन्हें जासूसी के झूठे आरोप में फंसाने वाले पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई पर विचार के लिए पूर्व जज जस्टिस डी के जैन को नियुक्त किया.

आज क्या हुआ?

आज केंद्र सरकार की तरफ से सॉलिसीटर जनरल तुषार मेहता ने एक आवेदन चीफ जस्टिस एस ए बोबड़े की अध्यक्षता वाली बेंच के सामने रखा. उन्होंने कहा, “एक वैज्ञानिक जिसे पद्मभूषण से सम्मानित किया गया. जो देश के लिए अनमोल तकनीक बनाने में लगा था. उसे एक झूठे मुकदमें में फंसाया गया. अब कमेटी की रिपोर्ट सामने आ चुकी है. इसलिए, दोषियों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई होनी चाहिए. कोर्ट कल ही मामले को सुने.” इसपर चीफ जस्टिस ने कहा, “निश्चित रूप से यह एक गंभीर मामला है. लेकिन इस पर कल ही सुनवाई कर लेना जरूरी नहीं. हम अगले हफ्ते इसे सुनवाई के लिए लगाने का निर्देश देते हैं.”

अनिल देशमुख के इस्तीफे के बाद अब ये नेता संभालेंगे महाराष्ट्र के अगले गृहमंत्री का पदभार

Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,796FansLike
2,738FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles