18.4 C
New York
Monday, June 14, 2021

Buy now

spot_img

Signal App Trolled Facebook Ceo Mark Zuckerberg Know Why


सैन फ्रांसिस्को: ‘सिग्नल’ एप ने फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग को ‘ट्रोल’ कर दिया है. सिग्नल एप ने कहा कि व्हाट्सएप प्राइवेसी का 15 मई वाला डेडलाइन बहुत जल्द नजदीक आ रहा है, इसके सबसे सटीक उदाहरण मार्क जुकरबर्ग खुद हैं. दसअसल, फेसबुक के करोड़ों यूजर्स का डेटा लीक होने का मामला सामने आया. इसमें जुकरबर्ग का डेटा भी लीक हुआ जिसमें उनका फोन नंबर शामिल है. इसके बाद एक सिक्योरिटी रिसर्चर ने खुलासा किया कि जुकरबर्ग ‘सिग्नल’ एप का इस्तेमाल करते हैं.

क्यों सिग्नल एप ने जुकरबर्ग को किया ट्रोल?

व्हाट्सएप पर फेसबुक का मालिकाना कह है. बीते महीने व्हाट्सएप अपनी प्राइवेसी पॉलिसी को आलोचनाओं से घिरा रहा. व्हाट्सएप ने प्राइवेसी पॉलिसी के तहत यूजर्स से कहा था कि अगर इस नई पॉलिसी को एक्सेप्ट नहीं किया गया तो ऐप डिलीट करना होगा. कंपनी की तरफ से कहा गया था कि ऐसे यूजर्स का अकाउंट 8 फरवरी के बाद बंद हो जाएगा. इस पॉलिसी का जमकर विरोध किया गया. जिसके बाद कंपनी ने इसे 15 मई तक के लिए टाल दिया था.

इस प्राइवेसी पॉलिसी के सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर कई तरह की प्रतिक्रियाएं सामने आई थीं. कई लोगों ने कहा कि वे इस प्राइवेसी पॉलिसी के चलते व्हाट्सएप के विकल्प के तौर पर दूसरे एप का इस्तेमाल करेंगे. इस दौरान ही सिग्नल एप सुर्खियों में आया. इसे व्हाट्एस के प्रतिद्वंदी एप की तरह देखा गया.

आखिर ऐसा क्या हुआ जो Mark Zuckerberg को Signal एप ने कर दिया 'ट्रोल

क्या है डेटा लीक का मामला?

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक के 53.3 करोड़ यूजर्स का डेटा लीक होने का मामला सामने आया है. केवल यूजर्स ही नहीं बल्कि कंपनी के सीईओ मार्क जुकरबर्ग के डेटा लीक होने की खबर ने सनसनी फैला दी है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, डेटा लीक से खुलासा हुआ है कि फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग सिग्नल ऐप का इस्तेमाल करते हैं.

दरअसल जुकरबर्ग का फोन नंबर 53.3 करोड़ फेसबुक यूजर्स के लीक हुए डेटा में से है. एक ऑनलाइन रिपोर्ट के मुताबिक, जुकरबर्ग के फोन नंबर और फेसबुक यूजर आईडी के अलावा उनका नाम, लोकेशन, शादी से संबंधित जानकारी और जन्मतिथि संबंधी डेटा लीक हुआ है.

दरअसल एक सिक्योरिटी रिसर्चर ने खुलासा किया कि जुकरबर्ग अपने लीक हुए फोन नंबर से सिग्नल का उपयोग करते हैं. मार्क जुकरबर्ग सिग्नल का उपयोग करके अपनी खुद की प्राइवेसी का खयाल रख रहे हैं, जिसमें एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन मिलता है. सिक्योरिटी एक्सपर्ट डेव वॉकर ने ट्विटर पर जुकरबर्ग के लीक हुए फोन नंबर के स्क्रीनशॉट के साथ पोस्ट किया है, जिसमें कहा गया, “मार्क जुकरबर्ग सिग्नल पर हैं.”

डेव वॉकर ने कहा है चूंकि फेसबुक पर एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन की सुविधा नहीं है, इसलिए मार्क जुकरबर्ग सिग्नल का उपयोग करके अपनी खुद की प्राइवेसी का खयाल रख रहे हैं. हाल ही में एक हैकर द्वारा डिजिटल मंच पर डेटा लीक से संबंधित जानकारी पोस्ट की गई थी. कुल 61 लाख भारतीयों सहित लगभग 53.3 करोड़ फेसबुक यूजर्स के व्यक्तिगत डेटा ऑनलाइन लीक होने की खबर के बाद इस रिपोर्ट ने सनसनी फैला दी है. यह खबर ऐसे समय में आई है, जब फेसबुक के स्वामित्व वाली व्हाट्सऐप की नई प्राइवेसी पॉलिसी से नाराज कई यूजर सिग्नल जैसे सुरक्षित माने जाने वाले विकल्प की ओर बढ़ रहे हैं.

Pan Card Correction: पैन कार्ड में हो गई है गलती? तो घर बैठे ऐसे ठीक करें पैनकार्ड

Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,995FansLike
2,815FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles