22.5 C
New York
Wednesday, July 28, 2021

Buy now

spot_img

Amit Shah Claims Said BJP Is Ahead In 92 Out Of 135 Seats After Four-phase Voting In Bengal | अमित शाह का दावा, कहा


सिलीगुड़ी: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को कहा कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के पहले चार चरणों में जिन 135 सीटों पर चुनाव हुआ है उनमें से भारतीय जनता पार्टी 92 में आगे है. शाह ने लोगों से कहा कि वे बीजेपी को 200 से अधिक सीटें देकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को एक भव्य विदाई दें.

तृणमूल कांग्रेस पर ‘‘झूठ’’ फैलाकर दार्जिलिंग पर्वतीय क्षेत्र के लोगों के बीच आशंकाएं पैदा करने का आरोप लगाते हुए बीजेपी के वरिष्ठ नेता ने कहा कि राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) का गोरखाओं पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा.

शाह ने उत्तर बंगाल के जलपाईगुड़ी जिले के धूपगुड़ी विधानसभा क्षेत्र में एक जनसभा को संबोधित करते हुए दावा किया, ‘‘पश्चिम बंगाल में अब तक हुए चार चरणों में, बीजेपी 92 से अधिक सीटों पर आगे है.’’

यहां पर पांचवें चरण के तहत 17 अप्रैल को मतदान होना है.

उन्होंने कहा कि चूंकि बनर्जी एक ‘‘बड़ी नेता’’ हैं, लोगों को 294 सदस्यीय विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 200 से अधिक सीटों पर जिताकर उन्हें भव्य विदाई देनी चाहिए. उन्होंने बनर्जी के भाषणों में बंगाल से अधिक कथित तौर उनका नाम लिये जाने पर चुटकी ली. शाह ने कहा कि बनर्जी ने यदि राज्य के बारे में अधिक बात की होती तो उन्हें चुनाव जीतने का मौका मिल सकता था.

उन्होंने कहा कि 10 अप्रैल को मतदान के दौरान कूच बिहार जिले के सीतलकूची में सीआईएसएफ कर्मियों द्वारा गोलीबारी में चार लोगों की मौत की घटना दुखद है. शाह ने दावा किया कि बनर्जी ने इन चार लोगों की मौत की निंदा की, लेकिन एक बीजेपी कार्यकर्ता आनंद बर्मन के नाम का जिक्र भी नहीं किया, जो उसी दिन सीतलकूची में बदमाशों की गोलीबारी से मारे गए थे, क्योंकि वह राजबंशी समुदाय से थे जो उनका वोट बैंक नहीं है.

उन्होंने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री ने बर्मन की मौत की जांच के आदेश भी नहीं दिए. बनर्जी ने कहा है कि उनकी सरकार चार लोगों की मौत के मामले में सीआईडी जांच शुरू करेगी जिनके बारे में कहा जाता है कि वे टीएमसी समर्थक थे.

शाह ने सवाल किया, ‘‘क्या मृत्यु में भी तुष्टीकरण होना चाहिए?’’

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि बर्मन की मौत के लिए जिम्मेदार लोगों को सलाखों के पीछे डाला जाएगा. उत्तर दिनाजपुर जिले के हेमताबाद में एक अन्य रैली में उन्होंने कहा कि इस सीट से बीजेपी उम्मीदवार चंद्रिमा रॉय उस कथित अत्याचार का एक उदाहरण हैं जिसका सामना उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं और महिलाओं ने ममता बनर्जी के शासन में किया है.

रॉय हेमताबाद के बीजेपी विधायक देवेंद्र नाथ रॉय की पत्नी हैं जो जुलाई 2020 में अपने घर से लगभग एक किलोमीटर दूर एक चाय की दुकान के सामने फंदे से लटके मिले थे. बीजेपी ने दावा किया था कि उनकी हत्या कर दी गई थी, पुलिस ने कहा कि उन्होंने आत्महत्या कर ली.

शाह ने दावा किया कि राज्य में 130 से अधिक बीजेपी कार्यकर्ता मारे गए हैं और ‘‘दीदी (बनर्जी) के गुंडे” सोचते हैं कि उन्हें कुछ नहीं होगा. उन्होंने कहा, ‘‘मैं टीएमसी के गुंडों को बता देना चाहता हूं कि दीदी की सरकार 2 मई को जाएगी (जब वोटों की गिनती होगी). भले ही आप जमीन के नीचे छिप जाएं, हम आपको ढूंढ़ लेंगे और आपको जेल भेजेंगे.’’

दीदी का पैर जल्द ठीक हो जाए ताकि वह 2 मई को अपना इस्तीफा देने के लिए चल सकें- शाह

शाह ने कहा, ‘‘मैं हर दिन प्रार्थना करता हूं कि दीदी का पैर जल्द ठीक हो जाए ताकि वह 2 मई को अपना इस्तीफा देने के लिए चल सकें.’’ बनर्जी को पिछले महीने चुनाव प्रचार के दौरान पैर में चोट लग गई थी और तब से वह व्हीलचेयर पर बैठकर प्रचार कर रही हैं.

शाह ने कालिम्पोंग में एक रोडशो के बाद कहा कि जब तक केंद्र में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार है, गोरखा लोगों को कोई परेशानी नहीं होगी. बीजेपी के वरिष्ठ नेता शाह ने कहा, ‘‘एनआरसी अभी लागू नहीं हुआ है लेकिन जब भी ऐसा होगा, एक भी गोरखा को जाने के लिए नहीं कहा जाएगा.’’

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा, ‘‘तृणमूल कांग्रेस गोरखा लोगों के बीच डर पैदा करने के लिए एनआरसी पर झूठ फैला रही है.’’ शाह ने दावा किया कि दार्जिलिंग और कालिम्पोंग को लंबे समय से अत्याचार झेलना पड़ रहा है और 1986 में 1,200 से ज्यादा गोरखा लोगों की जान गयी लेकिन उन्हें न्याय नहीं मिला. गृह मंत्री ने आरोप लगाया कि हालिया समय में कई गोरखा लोगों की मौत के लिए ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली सरकार भी जिम्मेदार है.

एक घंटे के रोडशो में हजारों लोगों ने हिस्सा लिया

अलग गोरखालैंड की मांग को लेकर 2017 में दार्जिलिंग और इसके आसपास के इलाके में आंदोलन हुए थे. शाह ने शाम को उत्तर बंगाल के सबसे बड़े शहर सिलीगुड़ी में एक रोडशो किया. एक घंटे के रोडशो में हजारों लोगों ने हिस्सा लिया. लॉरी पर बने डेक पर खड़े होकर शाह ने भीड़ पर फूलों की पंखुड़ियों की बौछार की.

शाह ने कहा, ‘‘मैंने अपने जीवन में कई रोडशो में भाग लिया और देखा, लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं देखा.’’ शाह ने वादा किया कि सिलीगुड़ी के पास बागडोगरा हवाई अड्डे को अंतरराष्ट्रीय विमानपत्तन बनाया जाएगा.

Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,995FansLike
2,875FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles