15 C
New York
Friday, June 18, 2021

Buy now

spot_img

Covid-19 Vaccine: Islamic Leaders Say Getting A Vaccine Does Not Violate Ramadan Fast | Covid-19 Vaccine: मुस्लिम नेताओं ने कहा


ब्रिटेन के मुस्लिम समुदाय से संबंधित बुद्धिजीवियों और उलेमाओं ने कहा है कि कोविड-19 वैक्सीन का इस्तेमाल करने और रमजान में उपवास के बीच कोई टकराव नहीं है. दुनिया भर के मुस्लिमों के लिए रजमान का महीना एक पवित्र महीना है और इस दौरान सुबह से लेकर शाम तक खाने, पीने से खुद को मुस्लिम रोक लेते हैं. हालांकि, रोजा की हालत में धार्मिक शिक्षा मुस्लिमों को ‘शरीर के अंदर कुछ भी दाखिल करने’ से रोकती है, मगर ब्रिटेन के बुद्धिजीवियों ने कहा है कि ये नियम कोविड-19 वैक्सीन पर लागू नहीं होता. 

रमजान के दौरानकोविड-19 वैक्सीन से नहीं टूटता रोजा

बर्मिंघम की ग्रेन लेन मस्जिद के इमाम मुस्तफा हुसैन ने अरब न्यूज को बताया, “वैक्सीन में पोषण का मूल्य नहीं है और हम इंजेक्शन के बारे में विचार करते वक्त उससे शरीर को क्या हासिल होता है, उस पर विचार करते हैं. अगर वैक्सीन से शरीर को कोई पोषक या पोषक मूल्य मुहैया नहीं होता है, तब आपको उसका इस्तेमाल करने की इजाजत है, यहां तक कि आप रोजे से भी हों.” उन्होंने कहा, “इससे आपका रोजा बिल्कुल नहीं खराब होता है. इसलिए, रमजान के दौरान टीकाकरण में कुछ भी गलत नहीं है.” दवा और रोजा नया नहीं है. बीमार पड़ने की सूरत में मुस्लिम रोजा त्याग सकते हैं रमजान के बाद छोड़े हुए रोजे की भरपाई कर सकते हैं. रमजान का संयोग पूरे ब्रिटेन में टीकाकरण अभियान के साथ पड़ रहा है. चिंता इस बात की है कि ब्रिटेन की 2.5 मिलियन मुस्लिम आबादी के लिए टीकाकरण की रफ्तार धीमी पड़ सकती है. 

ब्रिटेन के उलेमा वैक्सीन लगवाने के लिए कर रहे प्रेरित 
   
पाकिस्तान और बांग्लादेश मूल के ब्रिटिश नागरिक पहले ही महामारी से बुरी तरह प्रभावित होनेवाले ग्रुप में से हैं, हालांकि वैक्सीन से जुड़ी गलत सूचना और अभियान की वजह से उनको वैक्सीन मिलने पर मना करने की अधिक संभावना पैदा कर दिया है. इसका मुकाबला करने के लिए ब्रिटेन की मस्जिदों और उसके इमामों ने उसके धार्मिक महत्व पर रोशनी डालते हुए लोगों को प्रेरित करने में अहम भूमिका निभाई है. कुछ मस्जिदों ने अपना दरवाजा ब्रिटेन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा को वैक्सीन सेंटर के तौर पर इस्तेमाल करने के लिए खोल दिया है. नए डेटा बताते हैं कि वैक्सीन के प्रति लोगों में विश्वास बढ़ाने के लिए इन प्रयासों का काफी अच्छा असर हुआ है. 

इम्यूनिटी मजबूत कर कोविड-19 के खिलाफ लड़ने में सक्षम बनाता है काढ़ा, जानिए प्राचीन भारतीय ड्रिंक को बनाने का तरीका

कोरोना के मामलों में ब्राजील को पीछे छोड़ दूसरा सबसे बड़ा देश बना भारत, जानिए अब तक कितने मामले आए सामने

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator

Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,995FansLike
2,817FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles