17.2 C
New York
Saturday, July 31, 2021

Buy now

spot_img

Delhi Market Association Gave Its Opinion About The Lockdown Read Story | लॉकडाउन लगाने को लेकर दिल्ली मार्केट एसोसिएशन ने दी राय, कहा


दिल्ली के मार्केट एसोसिएशन ने शहर में कोविड-19 महामारी को नियंत्रित करने के लिए शुक्रवार को विभिन्न सुझाव दिए लेकिन लॉकडाउन को समाधान के तौर लागू करने को खारिज कर दिया. उन्होंने कोविड-19 नियमों का कड़ाई से अनुपालन कराने का आह्वान किया. खुदरा बाजार के विभिन्न संघों ने यहां बैठक की और संयुक्त बयान जारी कर कहा कि स्थिति को नियंत्रित करने के लिए कोविड-19 नियमों का पूरे दिन अनुपालन किया जाना चाहिए बजाय कि रात और वीकेंड में कर्फ्यू लगाने या लॉकडाउन का समर्थन करने के.

बयान में कहा गया, ‘‘यह हमारी साझा राय है कि बाजारों को खोलने के लिए अलग समय या उन्हें खोलने की अवधि कम की जा सकती है, बजाय लॉकडाउन के, क्योंकि लॉकडाउन का सीधा असर सरकार के राजस्व और कामगारों की आजीविका पर पड़ेगा और देश में असुरक्षा का भाव उत्पन्न होगा, इसका कोई सकारात्मक असर संक्रमण की कड़ी तोड़ने के मामले में भी नहीं होगा.’’ इस बैठक में खान मार्केट, करोल बाग, लाजपत नगर, साउथ एक्सटेंशन सहित करीब 12 बाजारों के कारोबारी शामिल हुए.

गुरुवार को आए 16 हजार से अधिक मामले 

गौरतलब है कि दिल्ली में गुरुवार को कोविड-19 के 16,699 नए मामले आए और संक्रमण के कारण 112 मौतें हुईं. राजधानी में एक दिन पहले संक्रमण के 17,282 नए मामले सामने आए थे, जो अब तक के सर्वाधिक मामले हैं. पिछले कुछ दिनों से मामले काफी बढ़ रहे हैं. शहर में कोरोना से मरने वालों की संख्या बढ़कर 11,652 हो गई है. दिल्ली में गुरुवार को संक्रमण दर 20.22 फीसदी पर पहुंच गई, जो शहर में अब तक का उच्चतम है. बुधवार को संक्रमण दर 15.92 फीसदी थी. संक्रमण के कुल 7,84,137 मामले हो चुके हैं. 7.18 लाख से अधिक मरीज वायरस से उबर चुके हैं. एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 54,309 हो गई है. वहीं, कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए शुक्रवार रात दस बजे से वीकेंड कर्फ्यू लगाया जा रहा है. यह कर्फ्यू 19 अप्रैल (सोमवार) सुबह पांच बजे समाप्त होगा. इसके साथ ही राजधानी में जिम, ऑडिटोरियम, मॉल, स्पा, मनोरंजन पार्क और सभा कक्ष 30 अप्रैल तक बंद रहेंगे.

यह भी पढ़ें.

Delhi Weekend Curfew: दिल्ली में कोरोना के सभी रिकॉर्ड टूटे, आज आए 19 हजार से अधिक नए मामले

Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,995FansLike
2,880FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles