26.3 C
New York
Friday, June 18, 2021

Buy now

spot_img

Amid Growing Influence Of Corona, Bihar DGP Stops Picking Up, Policemen Wandering For Help Ann


पटना: बिहार में कोरोना संक्रमण बड़ी तेजी से फैल रहा है. रोजाना सैकड़ों नए मरीज मिल रहे हैं. बिहार पुलिस के कई जवान संक्रमण की जद में हैं. कितनों की अब तक संक्रमण की वजह से मौत हो गई है. कोरोना काल में अपनी परवाह किए बिना जनता की सेवा में लगे इन कोरोना योद्धाओं के लिए सरकार की ओर से कोई विशेष व्यवस्था नहीं की गई है. यहां तक की बिहार पुलिस के डीजीपी एसके सिंघल जो सभी पुलिसकर्मियों के हेड हैं, उन्होंने कोरोना काल में फोन उठाना बंद कर दिया है.

व्हाट्सएप पर मैसेज कर मांगी मदद

इस बात का खुलासा बिहार पुलिस एसोसिएशन के अध्यक्ष मृत्युंजय सिंह ने किया है. उन्होंने कहा कि अजीब स्थिति है, अनेकों बार फोन लगाने पर भी डीजीपी फोन नहीं उठा रहे हैं. ऐसे में व्हाट्सएप पर पत्र रूपी मेसेज लिखकर उनसे मदद की मांग करनी पड़ी है. दरअसल, सोमवार को उन्होंने डीजीपी एसके सिंघल को मैसेज भेजा, जिसमें उन्होंने लिखा, ” मौजूदा समय में कोरोना से कोरोना योद्धा पुलिसकर्मी औए उनका परिजन काफी प्रभावित है. लेकिन उन्हें इलाज के लिए भटकना पड़ रहा है. ऐसे में आग्रह हैं कि पुलिसकर्मीयो और उनके परिजनों के इलाज के लिए पुलिस मुख्यालय स्तर से हॉस्पिटलों में कुछ बेड की सुविधा की जाए.”

डीजीपी से उन्होंने कहा, ” आप बिहार के पुलिस प्रमुख हैं और सभी पुलिसकर्मीयों के अभिभावक हैं. आपका कर्तव्य है कि इस संकट में अपने पुलिस परिवार के सदस्यों के दुख को कम करें. कल मोतिहारी के दारोगा त्रिलोकि नाथ राय, विशेष शाखा के इंस्पेक्टर जयदेव भगत की अचानक मौत हो गई. आज सुबह 9:39 बजे आक्सीजन की कमी से बीमार किऊल जीआरपी इंस्पेक्टर राज किशोर प्रसाद की मृत्यु हो गई. इन सभी के अलावा अन्य पुलिसकर्मी भी संक्रमित हैं.” 

फोन उठाने के लिए अधिकारी की प्रतिनियुक्ति की जाए

उन्होंने डीजीपी से कहा, “आपसे आग्रह है कि आपको स्तर से पहल की जाए. साथ ही मुख्यालय के किसी अधिकारी को बीमार पुलिसकर्मी के इलाज की व्यवस्था के लिए तत्काल मोबाइल नम्बर के साथ प्रतिनियुक्त किया जाए जिससे आसनी से हम लोग जुड़ कर बीमार पुलिसकर्मीयों की इलाज के लिए प्रयास करते रहे.”

बिहार मे नाइट कर्फ्यू का किया एलान

गौरतलब है कि बिहार में कोरोना के बढ़ते प्रभाव को ही देखते हुए सरकार ने राज्य में नाइट कर्फ्यू लगाने का एलान किया है. साथ ही स्कूल समेत अन्य शिक्षण संस्थान को 15 मई तक बंद रखने का आदेश जारी किया गया है. इसके साथ ही परीक्षाओं को भी स्थगित करने का निर्णय लिया गया है. हालांकि, बिहार पुलिस भर्ती की परीक्षाओं को इस आदेश के दायरे से बाहर रखा गया है. 

क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के साथ बैठक के बाद सीएम नीतीश ने रविवार को पीसी की थी, जिसमें उन्होंने बताया था कि राज्य में 15 मई तक पार्क, मॉल, उद्यान, सिनेमा हॉल आदि बंद रहेंगे. सरकारी कार्यालयों को पांच बजे तक बंद कर दिया जाएगा. वहीं, सूबे के सभी दुकान अब 7 बजे के बजाय 6 बजे ही बंद हो जाएंगे. होम डिलीवरी की सुविधा रात 9 बजे तक रहेगी. वहीं, धर्मिक स्थलों को बंद रखने का फैसला जो 30 अप्रेल तक का था, उसे बढ़ा कर 15 मई तक किया गया है.

यह भी पढ़ें – 

तेजस्वी यादव ने कोरोना के बढ़ते प्रभाव के बीच केंद्र सरकार पर साधा निशाना, पूछा- अब तक क्या काम किया?

Bihar Night Curfew Guidelines: शादी में सिर्फ 100 लोग हो सकेंगे शामिल, जानें- नाइट कर्फ्यू के दौरान क्या हैं पाबंदियां?

Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,995FansLike
2,817FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles