13.4 C
New York
Saturday, May 8, 2021

Buy now

spot_img

Mamata Banerjee Swearing in live updates West Bengal election 2021 CM Mamata 3rd time oath taking ceremony government formation 2021 WB state cabinet ministers


Mamata Banerjee Oath Ceremony: तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी आज तीसरी बार पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के तौर पर राजभवन में शपथ लेंगी. कोविड महामारी के चलते शपथ ग्रहण समारोह बेहद सादगी भरा होगा. पश्चिम बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य, निवर्तमान सदन के नेता प्रतिपक्ष अब्दुल मन्नान और सीपीएम के वरिष्ठ नेता बिमान बोस को कार्यक्रम का निमंत्रण भेजा गया है. महामारी की वर्तमान परिस्थितियों के मद्देनजर अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों और अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं को समारोह में आमंत्रित नहीं किया गया है.

तृणमूल कांग्रेस के सूत्रों ने कहा कि राजभवन में पांच मई को सुबह 10:45 बजे होने वाले शपथग्रहण समारोह में पार्टी सांसद अभिषेक बनर्जी, चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर और पार्टी के वरिष्ठ नेता फिरहाद हाकिम के भी शामिल होने की उम्मीद है. शपथ ग्रहण करने के तुरंत बाद ममता बनर्जी राज्य सचिवालय जाएंगी, जहां उन्हें कोलकाता पुलिस सलामी देगी.

बंगाल चुनाव में तृणमूल कांग्रेस ने 213 सीट जीतकर रचा इतिहास
तृणमूल कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में शानदार जीत दर्ज कर इतिहास रच दिया है और लगातार तीसरी बार राज्य की सत्ता अपने पास बरकरार रखी है. पार्टी को 292 विधानसभा सीटों में से 213 पर जीत हासिल हुई है जो बहुमत के जादुई आंकड़े से भी कहीं अधिक है. वहीं, इस विधानसभा चुनाव में अपनी पूरी ताकत झोंक देने वाली बीजेपी 77 सीटों पर विजयी रही है.

इसके साथ ही राष्ट्रीय सेकुलर मजलिस पार्टी के चिह्न पर चुनाव लड़ने वाली आईएसएफ को एक सीट मिली है और एक निर्दलीय प्रत्याशी भी जीत दर्ज करने में सफल रहा है. तृणमूल कांग्रेस का प्रदर्शन इस बार 2016 के विधानसभा चुनाव से भी बेहतर रहा जब इसे 211 सीट मिली थीं.

बीजेपी राज्य की सत्ता से ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस को उखाड़ फेंकने में सफल नहीं हो पाई, लेकिन यह पहली बार है जब वह बंगाल में मुख्य विपक्षी दल बन गई है. बीजेपी को 2016 के विधानसभा चुनाव में महज तीन सीट मिली थीं. अपनी पार्टी की जीत से गदगद बनर्जी को हालांकि नंदीग्राम में खुद हार का सामना करना पड़ा. वह पूर्व में अपने विश्वासपात्र रहे और इस बार बीजेपी में शामिल हुए कद्दावर नेता शुभेन्दु अधिकारी से 1,956 मतों के अंतर से हार गईं.

ये भी पढ़ें-
बंगाल में भड़की हिंसा को लेकर मुख्य सचिव, गृह सचिव समेत आला अधिकारियों के साथ ममता ने बुलाई बैठक

पुख्ता की गई नंदीग्राम के निर्वाचन अधिकारी की सुरक्षा व्यवस्था, इस सीट से शुभेंदु ने ममता बनर्जी को दी थी शिकस्त

Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,929FansLike
2,758FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles